img14


कोरोना से अनाथ हुए बच्चों के लिए मोदी सरकार का ऐलान, पीएम केयर्स फंड से 10 लाख रुपए की मदद और 5 लाख का स्वास्थ्य बीमा मिलेगा, पढ़ाई का खर्च भी दिया जाएगा
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ऐलान किया है कि कोरोना के कारण माता-पिता या अभिभावक दोनों को खोने वाले सभी बच्चों को पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रन योजना 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ऐलान किया है कि कोरोना के कारण माता-पिता या अभिभावक दोनों को खोने वाले सभी बच्चों को च्ड केयर्स फॉर चिल्ड्रन योजना के तहत मदद दी जाएगी। देश में कोरोना के कारण अनाथ हुए बच्चों के लिए केंद्र सरकार ने शनिवार को बड़ा ऐलान किया। ऐसे बच्चों को च्ड केयर्स फंड से 10 लाख रुपए की मदद दी जाएगी। उनकी पढ़ाई का खर्च भी इसी फंड से उठाया जाएगा। 18 साल की उम्र तक हर महीने आर्थिक मदद दी जाएगी। इसके अलावा उनकी उम्र 23 साल होने पर भी 10 लाख रुपए की सहायता मिलेगी। प्रधानमंत्री कार्यालय के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घोषणा की है कि कोरोना के कारण माता-पिता या अभिभावक दोनों को खोने वाले सभी बच्चों को च्ड केयर्स फॉर चिल्ड्रन योजना के तहत मदद दी जाएगी।इन बच्चों को आयुष्यमान भारत योजना के तहत 5 लाख रुपए तक का स्वास्थ्य बीमा मिलेगा। इसका प्रीमियम पीएम केयर्स फंड से दिया जाएगा। हायर एजुकेशन के लिए अगर लोन लिया है तो उसमें राहत दी जाएगी। इस लोन का ब्याज भी इसी फंड से दिया जाएगा।
दिल्ली में 1 हजार से कम नए केस मिले
दिल्ली में 2 महीने बाद एक दिन में कोरोना के एक हजार से कम केस मिले हैं। यहां शनिवार को 956 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई। इससे पहले 22 मार्च को 888 केस मिले थे। इसके बाद से लगातार नए केस बढ़ते गए। यह संख्या 30 अप्रैल को 27 हजार तक पहुंच गई थी। इसके बाद से नए मामलों में कमी आ रही है। बीते 24 घंटों में यहां 122 लोगों की संक्रमण से मौत हो गई। पॉजिटिविटी रेट भी गिरकर 1.19ः पर आ गया है। दूसरी लहर के पीक पर यह 32ः तक पहुंच गया था। स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन में कहा गया है कि दिल्ली में कोरोना से मरने वालों की संख्या 24,073 हो गई है। गुरुवार को यहां 1,072 नए केस और 117 मौतें दर्ज की गई थीं।
19 राज्यों में लॉकडाउन जैसी पाबंदियां
देश के 19 राज्यों में पूर्ण लॉकडाउन जैसी पाबंदियां हैं। इनमें हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, छत्तीसगढ़, ओडिशा, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, मिजोरम, गोवा, तेलंगाना, पश्चिम बंगाल और पुडुचेरी शामिल हैं। यहां पिछले लॉकडाउन जैसे ही कड़े प्रतिबंध लगाए गए हैं।
13 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में आंशिक लॉकडाउन
देश के 13 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में आंशिक लॉकडाउन है। यहां पाबंदियां तो हैं, लेकिन छूट भी है। इनमें पंजाब, जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, उत्तराखंड, अरुणाचल प्रदेश, सिक्किम, मेघालय, नगालैंड, असम, मणिपुर, त्रिपुरा, आंध्र प्रदेश और गुजरात शामिल हैं।