img14

पयागपुर-25 मई को गाँव के एक प्रवासी मज़दूर के कोरोना संक्रामित होने की पुष्टि होने के बाद 26 मई को आला अधिकारियों के निरीक्षण के बाद हाट स्पाट घोषित रुकनापुर गाँव एक महीना तीन दिन बाद 29 जून को हाट स्पाट से मुक्त हुआ ।हाट स्पाट समापन अवसर पर कोरोना योद्धाओ व कोरोना को हराकर जीते मरीजो को ग्राम प्रधान प्रतिनिधि बिनोद सिंह द्वारा सम्मानित किया गया । बताते चले 25 मई को गाँव के प्रवासी मजदूर के कोरोना पाजिटिव होने हाट स्पाट घोषित रुकनापुर गाँव के हाट स्पाट जोन की मियाद कोरोना मरीजों के बढ़ने के साथ बढ़ती ही चली गयी ।4 जून को प्रवासी मजदूर व 8 जून तक उसकी बिटिया के पाजिटिव मिलने बाद पाजिटिव मरीजों की संख्या चार पहुँच गयी । हाट स्पाट जोन की अवधि बढा दी गयी ।सोमवार को उपजिला अधिकारी पयागपुर पयागपुर के पी भारती ,नायब तहसीलदार विनीत सिंह ,थाना प्रभारी मुकेश कुमार सिंह अधीक्षक एन बी जायसवाल व बी पी एम अनुपम शुक्ल की मौजूदगी मे गाँव को हाट स्पाट से मुक्त कर दिया गया ।गाँव वालों ने राहत की साँस ली ।प्रधान प्रतिनिधि विनोद सिंह द्वारा सभी कोरोना योद्धाओं व कोरोना को जीत कर स्वस्थ हुये मरीजों को पुष्प वर्षा कर सम्मानित किया गया ।इस अवसर पर प्रधान सहसरावा गोपाल जी उपाध्याय ,कपीस सिंह ,भाजपा नेता प्रदीप तिवारी सहित निगरानी समिति के कर्मचारी व गाँव वासी मौजूद रहे ।